Translate This Website In Any Language

ड्राई फ्रूट पैकिंग का बिजनेस कैसे शुरू करें? Dry fruit packing business in Hindi

ड्राई फ्रूट पैकिंग का बिजनेस कैसे शुरू करें?

Dry fruit packing business in Hindi

ड्राई फ्रूट्स का बिज़नेस, व्यवसाय, पैकिंग, सेलिंग, लागत, लाभ, लाइसेंस (Dry Fruit Gift Packing Business Ideas in Hindi) (Selling, Investment, Profit, License, Marketing Research)


आजकल त्यौहार हो या कोई शादी लोग ड्राई फ्रूट्स मिठाई की जगह अपने रिश्तेदारों और मेहमानों को देने लग गए हैं. ऐसे में ड्राई फ्रूट्स का व्यवसाय काफी अच्छे चरण पर कमाल दिखा रहा है. आज हम अपनी इस पोस्ट के जरिए आपको बताने जा रहे हैं कि किस प्रकार आप ड्राई फ्रूट्स का व्यवसाय प्रारंभ कर सकते हैं और आपको उसके लिए किन चीजों की जरूरत होगी.


Dry fruit packing business

ड्रॉय फ्रूट्स के बिजनेस की शुरुआत के लिए आपको सबसे पहले किसी अच्छे होलसेल मार्किट से ड्रॉय फ्रूट्स या सूखे मेवे खरीदना है होलसेल के मार्किट में ड्रॉय फ्रूट्स थोक के भाव में मिलते है .यहाँ से ड्रॉय फ्रूट्स खरीद कर इन्हें आप कस्टमर की मांग के अनुसार अलग – अलग पैकिंग में पैक कर के उनकी जरूरत के हिसाब से उन्हें बेच सकते है इस बिजनेस में अच्छा खासा लाभ कमा  सकते है . आप इन प्रोडक्ट्स को अच्छे तरीके से पैक कर के अपना लेबल लगा कर  मार्किट में बेच सकते है . ड्रॉय फ्रूट का अर्थ है सूखे मेवे जिसमे काजू , बादाम , किशमिश , अंजीर, खारिक , आदि शामिल है . त्योहारों के समय ड्रॉय फ्रूट्स भी गिफ्ट के तौर पर बहुत  अधिक प्रचलित है इन्हें आकर्षक पैकिंग में पैक कर के गिफ्ट के लिए तैयार किया जाता है . आकर्षक पैकिंग के कारण यह और भी अधिक दाम पर बिकते है . समय के साथ – साथ यह मांग आने वाले समय में निश्चित  तौर पर और अधिक बढ़ जाएगी . आप ड्रॉय फ्रूट्स को 2 तरोकों से बेच सकते है खुले भी और पैकिंग वाले भी , इसके अतिरिक्त आप ऑफ लाईन और ऑन लाईन दोनों तरीको से बेच सकते है .



ड्राई फ्रूट्स का व्यवसाय कैसे शुरू करें (How to Start)

ड्राई फ्रूट्स के बारे में तो आप जानते ही होंगे जिन्हें सूखे मेवे के नाम से भी जाना जाता है. आपकी स्थानीय निवास के आसपास ड्राई फ्रूट की थोक बाजार मार्केट अवश्य होगी जहां से खरीद कर आप ड्राई फ्रूट्स का रिटेलर बिजनेस स्टार्ट कर सकते हैं. आज के समय में लोग ब्रांड को देखकर हर चीज खरीदते हैं ऐसे में आप किसी एक चुनिंदा ब्रांड के ड्राई फ्रूट को भी खरीद कर उसका व्यवसाय प्रारंभ कर सकते हैं.




ड्राई फ्रूट्स व्यवसाय के लिए मार्केट रिसर्च (Market Research)

ड्राई फ्रूट की कौन सी किस्म बाजार में ज्यादा खरीदी जाती है वह आपको अपने बाजार में जाकर जानकारी जरूर प्राप्त करनी चाहिए, ताकि आप अपने आसपास के बाजार को समझकर जहां आप अपना व्यापार शुरू करना चाहते हैं वहां के माहौल के अनुसार आप भी एक बेहतर व्यवसाय प्रारंभ कर सकें. मार्केट का जायजा लेने के बाद ही आप अपने व्यापार को प्रारंभ करें ताकि वह आसानी से सफल हो सके.



ड्राई फ्रूट्स व्यवसाय प्रारंभ करने के लिए आवश्यकताएं (Requirements)

ड्राई फ्रूट का व्यवसाय प्रारंभ करने के लिए आपको निम्नलिखित चीजों की आवश्यकता होगी.

  • लोकेशन का चुनाव

  • व्यवसाय चलाने के लिए एक दुकान

  • लाइसेंस एवं पंजीकरण

  • बाजार से माल खरीदें

  • दुकान में माल रखने की जगह और माल ढोने के लिए वाहन आदि.




Dry fruits बिजनेस के प्रकार

Types Of Dry fruits Business :- ड्राई फ्रूट्स का होलसेल बिजनेस को दो प्रकार से शुरु कर सकते है


Dry fruits Packing Business :- इस बिज़नेस के अन्दर होलसेल रेट पर ड्राई फ्रूट्स खरीदकर उनको पैकिंग करके उनको बेचा जाता है इस बिज़नेस के अन्दर अपने ब्रांड के नाम से भी बेच सकते है |


Dry fruits Wholesale Business :- इस बिज़नेस के अन्दर होलसेल मार्किट से ड्राई फ्रूट्स खरीदकर रिटेलर को बेच सकते है इस बिज़नेस के अन्दर सीधे कस्टमर को भी बेच सके है और रिटेलर को भी बेच सकते है |




ड्राई फ्रूट पैकिंग का बिजनेस कैसे शुरू करें?

Dry Fruit Packing Business in Hindi

ड्राई फ्रूट पैकिंग का व्यापार क्या है?

आज भी हमारे देश में कई सारे लोगों को ड्राई फ्रूट पैकेजिंग का व्यापार क्या है? इसके बारे में जानकारी नहीं है और यह हमारे लिए एवं हमारे देश के व्यापार को करने वाले नए व्यापारियों के लिए सही नहीं है। आप लोगों को हर एक व्यापार के बारे में जानकारी होनी चाहिए और इस व्यापार को करने से पहले आपको किया आखिर कैसा व्यापार है? और इसमें क्या होता है? यह जानना बेहद जरूरी है।


आमतौर पर ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार में लगभग सभी प्रकार के काजू, किसमिस, पिस्ता, बादाम, छुहारा, खजूर, मुनक्का, मूंगफली और कुछ इसी प्रकार के कई सारे ड्राई फ्रूट का एक बास्केट तैयार किया जाता है और यह बास्केट अलग-अलग वजन के हिसाब से तैयार किया जाता है जैसे कि वह ड्राई फ्रूट का बास्केट 500 ग्राम का होगा, तो कोई ड्राई फ्रूट का बास्केट 1000 ग्राम के ऊपर का भी हो सकता है। 


कुल मिलाकर हम कई सारे अलग-अलग ड्राई फ्रूट के मिक्सर का एक बास्केट तैयार करते हैं और इस बास्केट को अच्छी तरीके से पैकेजिंग का रूप देखकर बाजार में बेचने के लिए भेज देते हैं। इसी व्यापार को आप ड्राई फ्रूट पैकेजिंग का व्यापार कह सकते हैं और हम आपको बता दें कि जब ड्राई फ्रूट को पैकेजिंग करके बाजार में बेचा जाता है तब  इसका दाम और भी ज्यादा बढ़ जाता है। 



भारतीय बाजारों में ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार की मांग

आज से करीब दो-तीन साल या इससे अधिक समय पहले एक समय ऐसा हुआ करता था, जब ड्राई फ्रूट के पैकेजिंग का व्यापार या फिर यूं कहें कि ड्राई फ्रूट को पैक कर के बाजार में बेचा नहीं जाता था और ना ही व्यापार की मांग थी। मगर जैसे-जैसे लोगों में ड्राई फ्रूट के प्रति जागरूकता आई और लोग जानने लगे कि ड्राई फ्रूट हेल्थ के लिए बहुत ही बेनिफिट प्रदान करता है और इतना ही नहीं आजकल तो त्योहारों के मौके पर और कई सुनहरे उपलक्ष पर लोग ड्राई फुट के पैकेजिंग का पूरा बास्केट ही गिफ्ट करते हैं।


कई लोग तो फैशन के रूप में और अपने आपको अन्य लोगों के बीच में अलग दिखाने के लिए ड्राई फ्रूट के बास्केट को गिफ्ट करते हैं और यही कारण है कि आज के समय में धीरे-धीरे भारतीय बाजारों में भी ड्राई फ्रूट के पैकेजिंग का व्यापार काफी मांग में होता चला जा रहा है। आज हमारे भारतीय बाजारों में भी अगर आप ड्राई फ्रूट के पैकेजिंग का व्यापार करते हैं तो बड़ी ही आसानी से आप नीचे सफल बना सकते हैं। 

बस आपको इस व्यापार को करने से पहले थोड़ी बहुत मार्केट रिसर्च करनी होगी और अपने इस व्यापार को थोड़े अच्छे तरीके से करना होगा। कुल मिलाकर हम आपसे कह सकते हैं कि आज के समय में भारतीय बाजारों में ड्राई फ्रूट पैकेजिंग का व्यापार खूब मांग में रहने वाला है और आगे भी इसकी डिमांड बढ़ने वाली है।



ड्राई फ्रूट पैकिंग का व्यापार शुरू करने के लिए रो मटेरियल कहां से लाएं

ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार में हमें ज्यादा कुछ रो मटेरियल की आवश्यकता नहीं होती है क्योंकि ऑलरेडी बाजार में रेडीमेड ड्राई फ्रूट आसानी से बिकते हैं। आप अपने नजदीकी बाजार से या फिर जहां पर ज्यादा से ज्यादा ड्राई फ्रूट बिकता है और इसकी मंडी जहां पर हो वहां पर चले जाना है और फिर वहां से आपको लगभग सभी प्रकार के अलग-अलग ड्राई फ्रूट खरीद लेना है और आप यह खरीदारी अपने बिजनेस के शुरू करने के आवश्यकता अनुसार करेंगे। 


इसके बाद आपको ड्राई फ्रूट की पैकेजिंग कैसे करनी है? इसका सोचना होगा। कई सारे लोग प्लास्टिक के बास्केट के जरिए ड्राई फ्रूट के पैकिंग करते हैं तो कई सारे लोग लकड़ी के बने हुए टोकरी का इस्तेमाल इसके लिए करते हैं। यह आप नजदीकी मार्केट से जाकर अपने आवश्यकतानुसार खरीद सकते हैं और उसके बाद ड्राई फ्रूट को अच्छी तरीके से पैक करने के लिए कुछ रंगीन पॉलीथिन का इस्तेमाल आप करेंगे और ध्यान रहे कि पैकेजिंग में सुरक्षा का भी ध्यान देना होगा इसलिए  इससे संबंधित भी रॉ मैटेरियल आप इसके इस्तेमाल में ले सकते हैं। 



ड्राई फ्रूट के पैकेजिंग का व्यापार शुरू करने के लिए आवश्यकताएं

ड्राई फ्रूट के पैकेजिंग का व्यापार प्रारंभ करने हेतु आपको कुछ चीजों की रिक्वायरमेंट होगी और उन चीजों की रिक्वायरमेंट को आसानी से पूरा करके आप इस व्यापार को प्रारंभ कर सकते हैं। तो चलिए जानते हैं कि ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार को प्रारंभ करने के लिए आपको किस चीज की आवश्यकता होगी? जिसकी जानकारी नीचे निम्नलिखित रुप में बताई गई है।


  • व्यवसाय चलाने के लिए एक दुकान

  • लाइसेंस एवं पंजीकरण

  • लोकेशन का चुनाव

  • बाजार से माल खरीदें

  • दुकान में माल रखने की जगह और माल ढोने के लिए वाहन आदि



ड्राई फ्रूट के पैकेजिंग का व्यापार कैसे शुरू करें

इस व्यापार को शुरू करने के लिए आपको कुछ प्रक्रियाओं से होकर गुजरना होगा और तब जाकर आप इस व्यापार को प्रारंभ करने में योग्य हो पाएंगे। यहां पर हम आपको नीचे बहुत ही विस्तार से वह सभी पॉइंट को समझाने का प्रयास करेंगे जिसके जरिए ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार को आसानी से चलाया जा सकता है और हम चाहते हैं कि नीचे बताए गए आप उन पॉइंट को सबसे पहले ध्यान से समझें और तभी इस व्यापार को करने का निर्णय लें।



ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार के लिए सही लोकेशन

वैसे भी आज के समय में आपको हर जगह पर ड्राई फ्रूट पैकेजिंग का व्यापार बहुत ही कम देखने को मिलता होगा। आपको इसी का एडवांटेज उठाना है। आपने  ऐसी भीड़ भाड़ वाली जगह का चुनाव करें जहां पर लगभग ज्यादा से ज्यादा लोगों को सामान खरीदने के लिए आना ही पड़ता हो। अब आप इसके लिए अपने किसी छोटे या बड़े बाजार के बीच स्थान का चुनाव कर सकते हैं।


हम आपको बता दें कि बाजार का बीच स्थान व्यापार करने के लिए बहुत ही सही होता है और खासतौर पर ड्राई फ्रूट की पैकेजिंग के व्यापार के लिए यह स्थान बिल्कुल सही होगा। ध्यान रहे कि आपको ज्यादा कोने में भी दुकान को नहीं खोलना है। आपको ऐसी जगह पर दुकान को खोलना है जहां पर लोग आपको आसानी से देख सके और आपकी दुकान के बारे में जान सके। 



ड्राई फ्रूट व्यापार के लिए लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन की जानकारी

अगर आप किसी भी व्यापार को शुरू करना चाहते हैं तो सबसे पहले उसे रजिस्टर्ड करना पड़ता है और व्यापार का लाइसेंस प्राप्त करना पड़ता है। अब सवाल उठता है कि क्या ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार के लिए भी हमें लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता होगी? अगर आप इस व्यापार को अगर छोटे स्तर से प्रारंभ कर रहे हैं, तो आपको इसके लिए केवल अपने नजदीकी प्रशासनिक अधिकारी से इजाजत लेनी होगी और बाकी कुछ करने की आवश्यकता नहीं है।


इस व्यापार को आप बड़े स्तर पर प्रारंभ करना चाहते हैं, तो सबसे पहले आपको अपने व्यापार का जीएसटी लेना होगा और उसके बाद फूड सेफ्टी डिपार्टमेंट से फूड सेफ्टी का लाइसेंस प्राप्त करना होगा। फिर बिना किसी रूकावट के आप आसानी से इस व्यापार को चला पाएंगे।



ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार के लिए स्टाफ मेंबर का चयन

अगर आप इस व्यापार को छोटे स्तर से प्रारंभ कर रहे हैं, तो आपको कोई भी स्टाफ मेंबर की आवश्यकता नहीं होगी। आप यह आपका परिवार मिलकर इस व्यापार की पैकेजिंग आसानी से कर सकता है और इसमें कोई ज्यादा योग्यता होने की भी आवश्यकता नहीं है ना ही कोई ज्यादा अनुभव होने की आवश्यकता होगी। अगर आप इस व्यापार को एक बड़े स्तर से प्रारंभ करना चाहते हैं, तब ऐसे में आपको ज्यादा से ज्यादा ड्राई फ्रूट की पैकेजिंग कम समय में करनी होगी और फिर आपको स्टाफ मेंबर की आवश्यकता पड़ेगी ही। तब आपको थोड़े बहुत स्टाफ मेंबर की आवश्यकता होगी और यह स्टाफ मेंबर आप आसानी से अपने नजदीकी क्षेत्र से हायर कर सकते हैं।



ड्राई फ्रूट की पैकेजिंग कैसे करें

अगर आप अलग-अलग वजन के हिसाब से ड्राई फ्रूट की पैकेजिंग करना चाहते हैं, तब आपको ऐसे में अलग-अलग प्रकार के और अलग-अलग वजन के साइज के पैकेजिंग के डिब्बों की जरूरत होगी और यह डब्बे आप आसानी से अपने नजदीकी मार्केट से या फिर किसी भी प्रिंटिंग प्रेस से बनवा सकते हैं। ध्यान रहे आप जो भी पैकेजिंग का डब्बा बनवाया है उसमें अपनी ब्रांडिंग भी और अपना पता भी अवश्य प्रिंट करवाएं।

अब आपको अलग-अलग वजन के साइज के हिसाब से ड्राई फ्रूट को पैक करना है और ध्यान रहे आपको इसके पैकेजिंग पर इस कदर ध्यान देना है कि इसमें बाहर की हवा अंदर ना जाने पाए क्योंकि अगर बाहर की हवा इसके अंदर चली जाएगी तो आपका ड्राई फ्रूट नमी के कारण खराब भी हो सकता है और इसी हिसाब से आप इसकी पैकेजिंग करें। आप चाहें तो इसे और अट्रैक्टिव बनाने के लिए अपना कोई क्रिएटिव दिमाग इस्तेमाल कर सकते हैं और इसकी अट्रैक्टिव पैकेजिंग भी कर सकते हैं।



ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार की मार्केटिंग

जहां पर ज्यादातर गिफ्ट एवं सजावटी सामान थोड़े बहुत दिखते हो वहां पर जाकर आप थोड़ी अपने व्यापार की मार्केटिंग करें। ऐसी जगहों पर लोग गिफ्ट पैकेजिंग के लिए आते जाते रहते हैं और अगर आप ऐसे दुकानदार को पकड़ेंगे, जहां पर गिफ्ट पैकेजिंग किया जाता हो तो हो सकता है कि आपके इस व्यापार के लिए आपका पहला ग्राहक कुछ इसी प्रकार का मिल जाए।


आप अपने ग्राहकों को अपने पैकेजिंग की गुणवत्ता और अपने ड्राई फ्रूट की गुणवत्ता के बारे में बताएं ताकि एक बजट प्राइस में लोग आपका यह ड्राई फ्रूट का पैकेज खरीदें। इसके अतिरिक्त आप अपने ड्राई फ्रूट के व्यापार की दुकान को अच्छे से चला कर इसकी मार्केटिंग खुद ही कर सकते हैं।



ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार को शुरू करने के लिए कुल निवेश

इस व्यापार को अगर आप छोटे स्तर से शुरू करना चाहते हैं तो आसानी से 50000 से लेकर 100000 के कम निवेश में शुरू कर सकते हैं। थोड़ी बहुत पैकेजिंग पर आपका एक्स्ट्रा खर्च हो सकता है और जहां पर आप दुकान लेंगे उस दुकान को सजाने से लेकर दुकान में माल भरने तक के सारे काम को करने में आपको आराम से 100000 के ऊपर तक का निवेश करना ही होगा।


अगर आप वही ड्राई फ्रूट के पैकेजिंग का व्यापार एक बड़े स्तर से प्रारंभ करना चाहते हैं तो कम से कम आपको इस व्यापार को अच्छी तरीके से प्रारंभ करने के लिए जो भी काम किए जाते हैं उनमें 500000 से लेकर 700000 के बीच तक का निवेश करना पड़ सकता है। इन दोनों ही परिस्थितियों में आपको ड्राई फ्रूट के खरीदने से लेकर उसे बेचने तक के सारे काम का निवेश करना होगा।



ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार में जोखिम की संभावना

वैसे आज भी हमारे देश में ड्राई फ्रूट के पैकेज व्यापार ज्यादा लोकप्रिय नहीं है और अभी ज्यादा लोग इसे करते भी नहीं है, परंतु फिर भी इस व्यापार की मांग हर एक छोटे बड़े गांव और शहरों में पढ़ रही है। इस दृष्टिकोण से देखा जाए तो इस व्यापार में हमें जोखिम कम मिलने वाला है परंतु अगर आप फिर भी खबर आ रहे हैं कि अगर कोई जोखिम की संभावना है तो कितनी है? तो हम आपको बता दें कि आपको सबसे पहले इस व्यापार को छोटे स्तर से प्रारंभ करना चाहिए और जब आपको लगे कि आप इस व्यापार को आसानी से चला सकते हैं तो आप इसे तुरंत ही बड़े स्तर में भी आसानी से परिवर्तित कर सकते हैं और खूब सारा पैसा कमा सकते हैं।



ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार से मुनाफा

अगर ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार में मुनाफे की (dry fruits business profit margin) बात करें तो ₹100 पैकेजिंग में आप आराम से 15 से ₹20 कमा सकते हैं और इस हिसाब से देखा जाए तो आप हर महीने ₹15000 से लेकर इससे ऊपर की कमाई आसानी से कर सकते हैं। अगर आपका यह व्यापार अच्छे तरीके से चल जाता है और यह लोकप्रिय हो जाता है तब इसका माई का कई गुना आप हर महीने कमा सकते हैं।






ड्राई फ्रूट्स होलसेल बिजनेस कैसे शुरू करें Dry Fruits Wholesale Business In India

आज लोगो में स्वास्थ्य के प्रति जागरूक बहुत ही ज्यादा बढ़ चुकी हैं आज लोग वही चीजे खाते है जिनमे अच्छे विटामिन और प्रोटीन और मिनरल्स  हो और ड्राई फ्रूट्स के अन्दर ये सब चीजे होती है इसलिए ड्राई फ्रूट्स को खाना लोग बहुत ज्यादा पसंद करते है जिस से आज ड्राई फ्रूट्स की डिमांड बहुत ज्यादा है और पिछले कुछ समय से ड्राई फ्रूट्स की मार्किट में भी बहुत ज्यादा बढ़ोतरी हुई है और ड्राई फ्रूट्स के बिज़नेस के अन्दर बहुत से लोग करोड़ों रुपये कमा रहे है . और आज इंडिया के अन्दर देशी ड्राई फ्रूट्स के साथ विदेशी ड्राई फ्रूट्स की डिमांड बढ़ रही है |


मार्किट में आजकल ड्राई फ्रूट 2 तरीके से सेल हो रहे हैं एक ड्राई फ्रूट तो खुले बिकते हैं और दूसरा पैकेट में खुले हुए ड्राई फ्रूट जो होते हैं वो मार्किट में खुले तौर पर बिकते हैं लोग आते हैं और जिसे जितना चाहिए वो अपने अपने हिसाब से ले जाते हैं दूसरा तरीका हैं ड्राई फ्रूट को अच्छे से पैकेट में डाल कर बेचना इससे यह फ़ायदा होता हैं की पैकेट में ड्राई फ्रूट थोड़ी ज्यादा रेट में मार्किट में सेल होता हैं  और बहुत सी कंपनी भी है जो ड्राई फ्रूट्स की पैकिंग करके अपने ब्रांड के नाम से बेचते है तो कोई भी person यदि काजू बादाम का बिज़नेस करना चाहता है तो इस आर्टिकल में हम आपको Dry fruits Wolesale business in india के बारे में विस्तार से बतायेंगे |



ड्राई फ्रूट्स होलसेल बिजनेस क्या है ?

What Is Dry fruits Wholesale Business Hindi  :- जब किसी बड़ी सिटी की मार्किट से सस्ते रेट में Dry fruits खरीद कर अपने एरिया के अन्दर रिटेल को बेचना Dry fruits Wholesale Business बिज़नेस कहते है इस बिज़नेस के अन्दर ज्यादा इन्वेस्टमेंट की जरुरत भी नही पड़ती और थोड़े से पैसे के अन्दर यह बिज़नेस शुरु कर सकते है और अच्छे पैसे कमा सकते है |



ड्राई फ्रूट्स का होलसेल Business के लिए जरूरी चीजे

Dry fruits Wholesale Business Requirements :- इस Business को शुरु करने के लिए बहुत सी चीजो को जरुरत पड़ती है  लेकिन चीज की जरुरत Business के आकार पर निर्भर करती है क्योकि Branded Products Wholesale Business करते है तो ज्यादा चीज की जरुरत  पड़ती है और यदि सीधा Dry fruits Wholesale Business करते है तो कम चीज की जरुरत पड़ती है ,


  • इन्वेस्टमेंट (Investment)

  • Shop & Godown

  • GST Number



ड्राई फ्रूट्स का होलसेल के लिए इन्वेस्टमेंट

Dry fruits Wholesale Business Hindi :- इस बिज़नेस के अन्दर इन्वेस्टमेंट की बात करें तो इसके अन्दर इन्वेस्टमेंट बिज़नेस और जमीन के निर्भर करती है क्योकि यदि खुद की शॉप के अन्दर बिज़नेस करते है  तो कम इन्वेस्टमेंट करनी पड़ती है और यदि shop किराये पर लेते या खरीदते है तो ज्यादा इन्वेस्टमेंट करनी पड़ती है और दूसरी बाद बिज़नेस की तो यदि Dry fruits पैकिंग बॉक्स का बिज़नेस करते है और ब्रांड के नाम से बेचते है तो ज्यादा इन्वेस्टमेंट करनी पड़ती है और यदि सीधा होलसेल का बिज़नेस शुरु करते है तो कम इन्वेस्टमेंट करनी पड़ती है |



ड्राई फ्रूट्स होलसेल के लिए जमीन Dry fruits Business Hindi

Land For Dry fruits Wholesale Business Hindi :-  इसके अन्दर ज्यादा जमीन की जरुरत नही पड़ती है क्योकि इसके अन्दर एक shop बनानी पड़ती है  और एक गोडाउन बनाना पड़ता है इन दोनों चीज के लिए अलग अलग जमीन की जरुरत पड़ती है |


Dry fruits Packing Business

  • Shop  :-  150 Square Feet To 200 Square Feet

  • Godown :- 200 Square Feet To 300 Square Feet


Total Space :- 300 Square Feet To 500 Square Feet


Dry fruits Wholesale Business

  • Shop :- 200 Square Feet To 300 Square Feet



Dry fruits Wholesale Business के लिए जरुरी डॉक्यूमेंट

Document For Dry fruits Wholesale Business :- कोई भी Business  शुरु करते है तो कुछ पर्सनल डॉक्यूमेंट की जरुरत पड़ती है और कुछ Business  से सबंधित लाइसेंस की जरुरत पड़ती है


Personal Document (PD) :-

Personal Document के अन्दर बहुत से डॉक्यूमेंट होते है जैसे :

  • ID Proof :- Aadhaar Card , Pan Card , Voter Card

  • Address Proof :- Ration Card , Electricity Bill ,

  • Bank Account With Passbook

  • Photograph Email ID , Phone Number ,

  • Other Document  


बिजनेस Document (PD)

  • Business Registeration

  • Business pan card

  • GST Number



ड्राई फ्रूट्स होलसेल बिज़नेस के लिए Product कहाँ से खरीदें

Where to buy Dry fruits :- Dry fruits का होलसेल बिजनेस करना है तो शाॅप पर बहुत ज्यादा सामान रखना जरूरी है इसके लिए अपने पास किसी बड़ी सिटी से सस्ते रेट पर सामान खरीद सकते है जैसे Delhi, Calcutta, Mumbai, Hyderabad जैसे बड़ी सिटी के अन्दर बहुत सी मार्किट है जंहा से आप Dry fruits बहुत सस्ते रेट में खरीद सकते है ऐसे लगभग सभी सिटी के अन्दर ऐसी मार्किट मिल जायगी वंहा से Dry fruits खरीद सकते है |


Almond Producing States in India


  • Jammu and Kashmir

  • Himachal Pradesh

  • Maharashtra

  • Karnataka

  • Andhra Pradesh

  • Uttar Pradesh

  • Kerala

  • Tamil Nadu

  • West Bengal

  • Gujarat


Dry Fruit Wholesale Markets In Delhi


  • Lajpat Nagar

  • Laxmi Nagar

  • Karol Bagh

  • Chawri Bazaar



Dry fruits Wholesale Busines के अन्दर प्रॉफिट मार्जिन

Dry fruits Wholesale Business Hindi :-   इस बिज़नेस के अन्दर 20 % से 30% से ज्यादा प्रॉफिट मार्जिन मिलता है तो इस हिसाब से इस बिज़नेस के अन्दर अच्छे पैसे कमा सकते है यदि आपको अच्छी शॉप मिल जाये तो अच्छे रेट पर सामान मिल जाता है और अच्छे पैसे कमा सकते है |




ड्रॉय फ्रूट्स के बिजनेस में सफल होने के कुछ उपाय

  • हम सभी जानते है की आज कल इन्टरनेट पर सभी जानकारी उपलब्ध है , तो ड्रॉय फ्रूट्स का बिजनेस शुरू करने से पहले आप इन्टरनेट से सारी  जानकारी प्राप्त कर ले .

  • जो लोग पहले से ड्रॉय फ्रूट्स का बिजनेस कर रहे है उन लोगो से भी बात कर  के जानकारी और उनके अनुभव जुटाए जा सकते है .

  • इस बिजनेस को शुरू करने से पहले हमे मार्केट को अच्छे से जानना और समझना बहुत जरुरी है . इसके लिए अच्छे से मार्किट की रिसर्च बहुत जरुरी है .

  • ड्रॉय फ्रूट्स की डिमांड और कीमत दोनों ही सर्दियों के मौसम में बढ़  जाती  है इसके लिए आप ड्रॉय फ्रूट्स को पहले से कम कीमत में खरीद कर  स्टॉक कर लेते है तो मुनाफा कई गुना बढ़ सकता है . ध्यान रहे  स्टॉक करते समय ड्रॉय फ्रूट्स  का रख – रखाव बहुत ही जरुरी है .

  • आज कल कस्टमर खुले सामान से ज्यादा पैकिंग वाले सामान पर अधिक विश्वास करते है इसलिए आप यदि ड्रॉय फ्रूट्स अच्छे से पैकिंग कर के और उस पर अपनी कंपनी या ब्रांड का लेबल लगा के आसानी से बेच सकते है .

  • यदि शुरुआत में आप इस बिजनेस में ज्यादा पैसा नहीं लगाना चाहते है तो आप किसी ब्रांड की फ्रेंचाइजी लेकर भी बेच सकते है .

  • ड्रॉय फ्रूट्स के बिजनेस में सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है ड्रॉय फ्रूट्स का अच्छी गुणवत्ता का होना , तो यह बहुत जरुरी है की गुणवत्ता को बनाये रखे .





निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने आपके लिए ड्राई फुट के पैकेजिंग का बेहतरीन व्यापार कैसे शुरू करें? इसकी ऊपर विस्तारपूर्वक से जानकारी लेकर प्रस्तुत हुए हैं। हमने इस व्यापार को प्रारंभ करने में जो भी चीजें करनी पड़ती है उनका पूरा ध्यान रखकर इस लेख को प्रस्तुत किया हुआ है। हमें उम्मीद है कि आप हमारे इस लेख को पढ़कर आसानी से ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार को कर सकते हैं।


अगर आपके मन में इस लेख से संबंधित कोई भी सवाल या फिर सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं। अगर आपके लिए आज का हमारा यह लेख जरा सा भी यूज़फुल और हेल्पफुल रहा हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ और अपने सभी सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले।




FAQ

Q : ड्राई फ्रूट का व्यवसाय कौन प्रारंभ कर सकते हैं ?

Ans : ड्राई फ्रूट्स की जानकारी रखने वाले लोग आसानी से इस व्यवसाय को प्रारंभ कर सकते हैं.


Q : क्या ड्राई फ्रूट का बिजनेस फायदेमंद है ?

Ans : जी हां.


Q : ड्राई फ्रूट्स का व्यवसाय कैसे शुरू करें ?

Ans : ड्राई फ्रूट्स का व्यवसाय प्रारंभ करने के लिए प्लानिंग करें, कानून के नियमों का ध्यान रखें, अपने बिजनेस को सेट करें, और माल इकट्ठा करने के बाद बेचना प्रारंभ कर दें.


Q : क्या ड्राई फ्रूट्स की ऑनलाइन बिक्री की जा सकती है ?

Ans : हां


Q: क्या ड्राई फ्रूट का व्यापार गांव या फिर छोटे शहर से शुरू किया जा सकता है? 

Ans : आज के समय में इस व्यापार की मांग को देखते हुए इसे आप अपने गांव में या फिर छोटे शहर में शुरू कर सकते हैं। 


Q: अगर ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार को छोटे स्तर से शुरू करते हैं तो कितना निवेश करना होगा?

Ans : अगर आप इस व्यापार को छोटे स्तर से शुरू करते हैं तो आपको कम से कम ₹100000 और इससे थोड़ा अधिक निवेश करना पड़ सकता है।


Q: क्या ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार को कोई भी शुरू कर सकता है?

Ans : जी हां बिल्कुल इस व्यापार को आसानी से कोई भी शुरू कर सकता है।


Q: बड़े स्तर पर ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार को शुरू करने के लिए क्या रजिस्ट्रेशन और लाइसेंस की जरूरत होगी?

Ans : जी हां बिल्कुल अगर आपको इस व्यापार को बड़े स्तर से प्रारंभ करना है तो आपको ऐसे में अपने व्यापार कर जीएसटी और देश व्यापार को शुरू करने के लिए फूड सेफ्टी डिपार्टमेंट से फूड सिक्योरिटी सर्टिफाइड का सर्टिफिकेट प्राप्त करना होगा।


Q: ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार से कितना कमाया जा सकता है?

Ans : ड्राई फ्रूट पैकेजिंग के व्यापार से हर महीने आराम से ₹15000 से लेकर ₹20000 या  फिर इससे अधिक की कमाई की जा सकती है। अगर आपका व्यापार बड़े स्तर पर चल जाता है तो इस कमाई में आपको दुगना और तिगुना मुनाफा भी देखने को मिल सकता है।


Q : ड्रॉय फ्रूट्स कहाँ से खरीद सकते है ?

Ans : उत्तर भारत या दिल्ली से .


Q : क्या यह बिजनेस ऑन लाईन भी किया जा सकता है ?

Ans : जी हाँ यह बिजनेस ऑन लाईन और ऑफ लाइन दोनों ही तरीकों से किया जा सकता है .


Q : क्या इस बिजनेस के लिए FSSAI का लायसेंस लेना जरुरी है ?

Ans : किसी भी खाद्य पदार्थ की गुणवत्ता प्रमाणित करने के लिए FSSAI लायसेंस जरुरी है .


Q : क्या यह बिजनेस घर बैठे भी किया जा सकता है ?

Ans : हाँ इस बिजनेस की शुरुआत घर बेठे की जा सकती है .


Q : इस बिजनेस में कितने प्रतिशत लाभ की संभावना है ?

Ans : इसमें 10 से 20 प्रतिशत तक का मार्जिन संभव है .


Post a Comment

0 Comments